कड़ी ठंड एवं शीतलहर से बचाव के दृष्टिगत जलाए जा रहे अलाव एवं रैन बसेरों का देर रात्रि में जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण

रिपोर्ट- डा.बीरेन्द्र सरोज आजमगढ

आजमगढ़ 07 जनवरी– जिलाधिकारी श्री विशाल भारद्वाज ने कड़ी ठंड एवं शीतलहर से बचाव के दृष्टिगत शहर के प्रमुख स्थानों पर जलाए जा रहे अलाव एवं रैन बसेरों का देर रात्रि में आकस्मिक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने रेलवे स्टेशन, रोडवेज, पहाड़पुर तिराहा, मंडलीय जिला चिकित्सालय व रैन बसेरा सदर एवं भंवरनाथ चौराहे सहित शहर के कई प्रमुख स्थलों का औचक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी महोदय को सभी जगह अलाव जलते हुए मिले।
जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि निराश्रित एवं बेसहारा लोगों को शेल्टर होम्स में रखा जाए। जिलाधिकारी ने रैनबसेरा में आए बेसहारा और निराश्रित व्यक्तियों से उनका हाल पूछा कि आप से यहां ठहरने का कितना पैसा लिया गया है इस बात पर सारे व्यक्तियों ने कहा कोई पैसा नहीं लिया गया है जिलाधिकारी ने कहा आप लोगों को खाने और रहने में कोई समस्या हो तो बताएं इस बात पर व्यक्तियों ने मिली सुविधाओ की सराहना की। जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी नगरपालिका को निर्देशित किया की रैन बसेरा के बाहर नोटिस बोर्ड पर निशुल्क व्यवस्थाओं की लिखित जानकारी अंकित करें। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति रात्रि में बाहर न रहे। उन्होंने जरूरतमंद लोगों को कंबल आदि का वितरण किया।
इसी के साथ ही मंडलीय चिकित्सालय में आकस्मिक वार्ड का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को निर्देशित किया कि आवश्यकतानुसार दवाओं की उपलब्धता एवं मरीजों को दी जाने वाली सुविधाएं को सुनिश्चित कराएं। उन्होंने ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को निर्देशित किया कि अपने निर्धारित ड्रेस में ड्यूटी करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी को ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक ने अवगत कराया कि दवाओं के साथ ही अन्य आकस्मिक चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध हैं। इमरजेंसी वार्ड में भर्ती मरीजों ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि दवाएं एवं आवश्यक सुविधाएं चिकित्सालय द्वारा उपलब्ध कराई जा रही है।
जिलाधिकारी ने कहा कि शासन का जो निर्देश एवं गाइडलाइन प्राप्त हुआ है, उसके अनुसार आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए।
निरीक्षण के दौरान एसडीएम सदर, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका आजमगढ़ उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...