स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाओं एवं चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक

स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाओं एवं चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक

रिपोर्ट- डाक्टर बीरेन्द्र सरोज आजमगढ

आजमगढ़ 05 जनवरी– जिलाधिकारी श्री विशाल भारद्वाज की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाओं एवं स्वास्थ्य विभाग के अंतर्गत चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधियों को निर्देश देते हुए कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फूलपुर, कुशलगांव, लाटघाट एवं लालगंज को उच्चीकृत कर 100 शैय्या युक्त अस्पताल बनाने के निर्माण कार्य को शीघ्रता से पूर्ण कर विभाग को हैंडओवर किया जाए। जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्था को निर्देश दिए कि तत्काल जारी की गई धनराशि के सापेक्ष हुए निर्माण कार्य की प्रगति का विवरण एक सप्ताह में उपलब्ध करायें। उन्होंने कहा कि कार्यदाई संस्था लिखित में अवगत कराएं कि कितनी धनराशि जारी हुई, इसके सापेक्ष कितना निर्माण कार्य हुआ, कितना कार्य अवशेष है तथा कितनी धनराशि अभी अवशेष है तथा अगले कितने दिनों में कार्य पूर्ण कर विभाग को हैंडओवर किया जाएगा।
जिलाधिकारी ने 15वें वित्त आयोग की धनराशि से जनपद में बनने वाले 381 हेल्थ वैलनेस सेंटर को निर्धारित समय में पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पूर्ण हो चुके हेल्थ वैलनेस सेंटर को तत्काल हैंडओवर करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि अवशेष हेल्थ वैलनेस सेंटर के लिए जमीनों के चिन्हीकरण में तेजी लायें। उन्होंने कहा कि भूमि की उपलब्धता से संबंधित विवादों का निस्तारण संबंधित अधिकारियों के साथ बैठकर सुनिश्चित कराएं।
जिलाधिकारी ने टीकाकरण की समीक्षा करते हुए कहा कि गूगल शीट एवं ई-कवच पोर्टल पर अब तक किये गये टीकाकरण का विवरण फीड कराएं। उन्होंने कहा कि ब्लॉक लेवल पर माइक्रो प्लान तैयार कर विशेष टीकाकरण अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत बनने वाले गोल्डन कार्ड का लक्ष्य विशेष टीकाकरण पखवाड़े में हासिल करें। उन्होंने कहा कि आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए प्राइवेट सुपर स्पेसियालिटी चिकित्सालयों को सूचीबद्ध किया जाए। जिलाधिकारी ने मंडलीय चिकित्सालय, महिला चिकित्सालय एवं सीएचसी/पीएचसी पर चिकित्सकों की तैनाती, दवाओं की उपलब्धता एवं अन्य समस्याओं को दूर करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आगामी कोविड-19 के संक्रमण को देखते हुए ऑक्सीजन प्लांट, बेड एवं अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं को समय से सुनिश्चित कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार का कोई भी भुगतान पेंडिंग में न रखें।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री आनंद कुमार शुक्ला, अपर जिलाधिकारी प्रशासन श्री अनिल कुमार मिश्र, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 इंद्र नारायण तिवारी, सीएमएस जिला महिला अस्पताल, डिप्टी सीएमओ सहित संबंधित अधिकारी एवं कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...