लालबाग चा राजा के भक्तों पर चोरों की नजर! कई राज्यों से आए थे चोर, 20 गिरफ्तार

लालबाग चा राजा के भक्तों पर चोरों की नजर! कई राज्यों से आए थे चोर, 20 गिरफ्तार

रिपोर्टर अनिल सिंह

मुंबई में गणेशोत्सव के दौरान लालबाग के राजा के दर्शन के लिए आए लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ के बीच लुटेरों का वो गिरोह भी मौजूद था, जिनकी नजर बप्पा की भक्ति में डूबे श्रद्धालुओं के कीमती सामान पर थी.
बप्पा के विसर्जन के बाद अब पुलिस इन लुटेरों की धड़पकड़ शुरू कर चुकी है. अब तक 20 लुटेरों की गिरफ्तारी हो चुकी है और बाकियों की तलाश जारी है. पुलिस की मानें तो इस साल लालबाग के राजा के भक्तों को लूटने आए गिरोह अलग-अलग राज्यों से थे, जिनमें सबसे ज्यादा गिरफ्तारी गुजरात के अहमदाबाद से आए लुटेरों की हुई है.

भक्तों को निशाना बना रहे चोर
मुंबई के परेल इलाके में सबसे प्रसिद्ध और बड़े पंडाल सजाए जाते हैं. जैसे कि लालबाग चा राजा, मुंबईचा राजा, चिंचपोकली चा राजा और परेल चा राजा. इस इलाके में गणेशोत्सव के दौरान लाखों की संख्या में भक्त दर्शन के लिए आते हैं, लेकिन भीड़ का फायदा उठा कर लुटेरे भी इस मौके पर भक्तों की कीमती चीजों की चोरी करने से पीछे नहीं रहते.

अब तक कालाचौकी पुलिस स्टेशन ने 20 ऐसे ही चोरों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने 10 चोरों को 28 सितंबर विसर्जन के दिन ही रंगे हाथों पकड़ा था. वहीं अन्य 10 लुटेरों को गणेशोत्सव के त्योहार के दौरान 9 दिनों में पकड़ा गया. चोरी किए गए सामान में मुख्यत: लोगों के फोन, पर्स, सोने की चेन को निशाना बनाया गया.

गुजरात से भी आया चोरों का गिरोह
इन 20 आरोपियों में से 6 आरोपियों का एक गिरोह है, जो गुजरात के अहमदाबाद से मुंबई आया था. इनमें महिला आरोपी इनकी प्रमुख बताई जा रही है. इस मामले में और भी आरोपियों की जांच जारी है.

कालाचौकी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी प्रमोद भोवते ने एबीपी न्यूज को बताया कि गणपति का पर्व 9 से 28 सितंबर में हुआ. चोरों को पता होता है कि यहां इस इलाके में लाखों की संख्या में भीड़ जमा हो सकती हैं, इसीलिए हमने पहले से सादे कपड़ों में डिटेक्शन के लिए अधिकारी तैनात किए थे. ऐसी घटनाएं होते ही पहले 9 दिनों में 10 लोगों को पकड़ा गया.

20 चोरों को किया गिरफ्तार
उन्होंने बताया कि विसर्जन के दिन 10 लोगों को पकड़ा गया. अब तक 16 लोगों को न्यायिक हिरासत में भेजा है. वहीं अन्य 4 पुलिस रिमांड में हैं. अहमदाबाद के 6 लोगों एक गिरोह था, जिसमे महिला प्रमुख चोर थी. अन्य चोर थाने नालासोपारा, कल्याण में पकड़े गए,जो अकेले काम करते थे.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि अब तक 3,96,000 रुपये रिकवर किया हैं. अबतक 15 से 20 फोन जब्त किए हैं, साथ ही 6 सोने की चेन जब्त की गई हैं. गणेशोत्सव के दौरान 40 से 50 लोग तैनात थे, जिन्होंने चोरों को रंगेहाथ पकड़ा. सबसे अधिक चोरी लालबागचा राजा में हुई थी.

पीड़िता बोली- अभी तक शुरू नहीं हुई जांच
कालाचौकी पुलिस स्टेशन आई एक पीड़िता ने एबीपी न्यूज को बताया कि उनकी सोने की 1.5 तोले को चेन विसर्जन के दौरान चोरी हो गई थी.महिलाओं की भीड़ थी, अचानक से एक महिला ने उनकी चेन को खींचा, जिसके बाद वह गिर गई. उन्होंने बताया कि वह पिछले 5 दिनों से पुलिस स्टेशन आ रही है. अब तक मामले की जांच शुरू नहीं हुई हैं.

खबरें और भी हैं...