रक्षक बना राक्षस                             दिल्ली                                           एक बार फ़िर से शर्मिंदा 

 

रक्षक बना राक्षस

दिल्ली

एक बार फ़िर से शर्मिंदा

 

दिल्ली के सरकारी अफसर ने दोस्त की बेटी से की दरिंदगी, पत्नी ने भी दिया साथ, बेटे से दवा मंगाकर कराया गर्भपात, FIR दर्ज

 

पूर्णिमा तिवारी

 

देश की राजधानी दिल्ली में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां दिल्ली सरकार के महिला एवं बाल विकास विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी पर अपने दोस्त की 14 साल की बेटी के साथ कई महीनों तक कथित तौर पर रेप करने का आरोप लगा है.

इतना ही नहीं अधिकारी की पत्नी पर भी इस घटना में उसका साथ देने का आरोप लगा है. दिल्ली पुलिस ने FIR दर्ज कर लीहै और मामले की जांच कर रही है.

 

दिल्ली पुलिस ने रेप के मामलों की जांच के लिए भारतीय दंड संहिता की कई धाराओं और कड़े POCSO अधिनियम के तहत वरिष्ठ अधिकारी के खिलाफ FIR दर्ज की है. प्राप्त जानकारी के अनुसार पीड़िता बारहवीं कक्षा की छात्रा है. उसने साल 2020 में अपने पिता को खो दिया था. इसके बाद आरोपी पीड़िता को अपने घर ले आया था.

 

क्या है आरोप

 

दिल्ली पुलिस के मुताबिक अधिकारी पर आरोप है कि उसने साल 2020 से 2021 के दौरान कई बार पीड़िता के साथ बलात्कार किया. जब नाबालिग प्रेग्नेंट हो गई तो आरोपी ने इस बारे में अपनी पत्नी को बताया. पुलिस ने बताया कि आरोपी की पत्नी ने भी इस अपराध में उसका साथ दिया. उसने अपने बेटे से दवा मंगाकर नाबालिग को खिला दिया और गर्भपात हो गया. हालत, बिगड़ने पर पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया.

पुलिस ने बताया की पीड़िता का इलाज चल रहा है और उसकी हालत स्थित है. मजिस्ट्रेट के सामने उसका बयान दर्ज किया जाना बाकी है. दिल्ली पुलिस, शीर्ष अधिकारी पर लगे गंभीर आरोपों की आगे की जांच कर रही है. मामले में पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने IPC की धारा 376(2), 506, 509, 323, 313, 120B, 34IPC और पॉक्सो एक्ट (Protection Of Children from Sexual Offences Act) के तहत मामला दर्ज किया है.

खबरें और भी हैं...