मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी के नेतृत्व मे फेरी द्वारा दूध बेच रहे दूधियों की जाचं 

मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी के नेतृत्व मे फेरी द्वारा दूध बेच रहे दूधियों की जाचं

 

रिपोर्ट- डा.बीरेन्द्र सरोज आजमगढ

 

आजमगढ़ 12 जुलाई– आयुक्त, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन लखनऊ तथा जिलाधिकारी आज़मगढ़ के आदेश के क्रम में जनपद मे आम जनमानस को खाद्य एवं पेय पदार्थो विशेषकर दूध पर शुद्धता एवं गुणवत्ता सुनिश्चित कराये जाने हेतु आज मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी, दीपक कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में भवरनाथ चौराहे पर घेरा बन्दी कर फेरी द्वारा दूध बेच रहे दूधियों की जाचं की। मौके पर मोटर साइकिल द्वारा दूध विक्रय कर रहे दूधिया जो लगभग 50 लीटर गाय का दूध बेच रहा था उससे सन्देंह के आधार पर उक्त दूध 01 नमूना लिया गया। तत्पश्चात 01 अन्य फेरी विक्रेता से पानी के मिलावट की आशंका पर 01 दूध का नमूना जांच हेतु लिया गया। कुछ समय पश्चात एक मोटरसाइकिल से 06 दूध के केन मे लगभग 80 लीटर मिश्रित दूध विक्रय हेतु ले जा रहे एक दूध विक्रेता से 01 मिश्रित दूध जांच हेतु लिया। खाद्य सुरक्षा विभाग की कार्यवाही से क्षेत्र में हड़कम्प मच गया तथा सभी दूधिये रास्ता बदल कर भाग निकले। तदोपरान्त छापा दल हीरापट्टी स्थित एक रेस्टोरेन्ट पर पहुचा। मौके पर उपस्थित खाद्य कारोबारकर्ता को साफ-सफाई असंतोषप्रद पाये जाने पर चेतावनी देते हुए अविलम्ब पायी गयी, त्रुटियों को सुधारने के लिए आवश्यक दिशानिर्देश दिया गया। भौतिक परीक्षण में 15 कि0ग्रा0 उपयोग हेतु फ्रिज में रखे हुए पनीर में अवमानक होने के संन्देह पर जांच हेतु नमूना लिया।

सहायक आयुक्त (खाद्य)-II आज़मगढ़ सुशील कुमार मिश्रा ने बताया कि आम जनमानस को वर्षाऋतु के दृष्टिगत संक्रामक बिमारियों के प्रसार को रोकने हेतु समय-समय पर विशेष छापा अभियान चलाया जाता रहेगा। उक्त छापेमार दल में खाद्य सुरक्षा अधिकारी कीर्ति आनन्द, राम बुझावन चौहान, प्रेमचन्द्र,राकेश कुमार शुक्ला एवं खाद्य सहायक अनिल कुमार शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...