भैंसें की कुर्बानी के दौरान खून एकत्रित किए जाने को लेकर चाचा भतीजा आपस में भीड़ें लाठी डंडे और चाकू से किया हमला

भैंसें की कुर्बानी के दौरान खून एकत्रित किए जाने को लेकर चाचा भतीजा आपस में भीड़ें लाठी डंडे और चाकू से किया हमला

रिपोर्ट कमल सिंह यादव आजमगढ

आजमगढ / बकरीद की कुर्बानी सामूहिक तौर से रिजवान के घर के सामने हो रही थी। प्राप्त जानकारी के अनुसार खुन सऊद के घर के सामने फैल रहा था जिसको लेकर एकत्रित करने की बात सामने आई जिसका विरोध सऊद पुत्र रेयाज 28 वर्ष ने किया तो दोनों लोगों में पहले कहा सुनि होने लगी देखते ही देखते मामला गाली गलौज से चाकू बाजी, लाठी डंडे में तब्दील हो गया जिसमें सऊद 28 वर्ष पुत्र रेयाज के हाथ में और उसके भाई फ़ज़ले रवी के सर पर चाकू से रिजवान पुत्र इफ्तार लगभग 30 वर्ष ने हमला कर दिया तो दुसरे पक्ष के हमले से रिजवान भी घायल हो गया देखते ही देखते दोनों पक्ष आपस में भीड़ गये और काफी संख्या में लोग एकत्रित हो गए किसी ने स्थानीय चौकी को सुचना दिया और घायलो को थाने पर लेकर आए जिसपर पुलिस ने प्रार्थना पत्र के आधार पर मुकदमा पंजीकृत कर मेडिकल कराया जिसमें फ़ज़ले रवी और रिजवान की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल के लिए रेफर किया गया इस पुरे चाकू बाज़ी के मामले को स्थानीय पुलिस लिपापोती करने में लगी रही

खबरें और भी हैं...