बेटे को था मां के कैरेक्टर पर शक

बेटे को था मां के कैरेक्टर पर शक, यूट्यूब पर वीडियो देखकर दिया इस खौफनाक घटना को अंजाम

 

ब्यूरो प्रमुख पूर्णिमा तिवारी

 

अमरावती: महाराष्ट्र के अमरावती से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां एक लड़के ने मां और छोटे भाई का एनेस्थीसिया देकर क़त्ल कर दिया। अपराधी लड़के ने पहले उन्हें सब्जी में धतूरा मिलाकर खिलाया।

 

फिर कमजोरी होने के पश्चात् उन्हें स्लाइन चढ़वाई तथा उसमें एनेस्थीसिया ड्रग मिलाकर वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने अपराधी बेटे को हैदराबाद से गिरफ्तार कर लिया है।

 

मामला अमरावती जिले के शिवाजी नगर क्षेत्र का है। यहां बीते महीने अगस्त में सौरभ कापसे अपनी मां नीलिमा एवं छोटे भाई आयुष का क़त्ल करके हैदराबाद भाग गया। पड़ोसियों को घर से गंध आने लगी तो उन्होंने पुलिस को इसकी खबर दी। तत्पश्चात, पुलिस मौके पर पहुंची फिर घर का ताला तोड़कर अंदर गई। वहां दीवान के अंदर से खून टपक रहा था तथा पूरे घर में गंध आ रही थी। पुलिस ने दीवान का बॉक्स खोल तो उसमें दो शव पूरी तरह डीकंपोज अवस्था में मिले। तत्पश्चात, पुलिस ने दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए हॉस्पिटल भेजा। तत्पश्चात रिश्तेदारों ने पुलिस को मृतक के बड़े बेटे के बारे में खबर दी। फिर पुलिस ने अपराधी की जानकारी जुटाकर उसे हैदराबाद से गिरफ्तार करके 1 सितबंर को पूरे मामला का खुलासा किया।

 

अपराधी ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उसे अपनी मां के चरित्र पर शक था। इसी कारण उसने मां के क़त्ल का षड्यंत्र रचा। पुलिस को इसकी जानकारी न लगे। इस वजह से उसने छोटे भाई का भी क़त्ल कर दिया। इस मामले में पुलिस अफसर किरण वानखड़े ने बताया कि अपराधी ने पहले पहले धतूरे के बीजों को काटकर सब्जी में मिलाकर अपनी मां और छोटे भाई को खिलाया। इस वजह से दोनों की तबीयत बिगड़ गई। तत्पश्चात, उसने दोनों का हॉस्पिटल में उपचार कराया। फिर घर में अपने कंपाउंडर दोस्त को बुलाकर उन्हें स्लाइन चढ़ावाई। फिर अपराधी ने स्लाइन में एनेस्थीसिया ड्रग डालकर दोनों को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने बताया कि अपराधी पॉलिटेक्निक का छात्र है तथा वो मोबाइल शॉप भी चलाता है। उसके कई दोस्त मेडिकल के जानकार थे। उसने अपने दोस्तों से जानकारी जुटाई। साथ ही यूट्यूब एवं गूगल से वीडियो को देख घटना को अंजाम दिया।

खबरें और भी हैं...