पीएम मोदी उत्तराखंड को देंगे 4200 करोड़ की सौगात, ये है प्रधानमंत्री का पूरा कार्यक्रम

पीएम मोदी उत्तराखंड को देंगे 4200 करोड़ की सौगात, ये है प्रधानमंत्री का पूरा कार्यक्रम

रिपोर्टर रवीन्द्र जोशी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बृहस्पतिवार (12 अक्टूबर) को उत्तराखंड के एक दिवसीय दौरे के तहत पार्वती कुंड एवं जागेश्वर धाम में पूजा-अर्चना करेंगे. साथ ही पीएम पिथौरागढ़ में लगभग 4,200 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास करेंगे.
प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने एक बयान में बताया कि पीएम मोदी सुबह करीब साढ़े आठ बजे पिथौरागढ़ जिले के जोलिंगकोंग पहुंचेंगे, जहां वह पार्वती कुंड में पूजा-अर्चना करेंगे.

इसने कहा कि प्रधानमंत्री इस स्थान पर पवित्र आदि-कैलाश का भी आशीर्वाद लेंगे जो अपने आध्यात्मिक महत्व और प्राकृतिक सुंदरता के लिए विख्यात है. प्रधानमंत्री सुबह करीब साढ़े नौ बजे पिथौरागढ़ जिले के गुंजी गांव पहुंचेंगे, जहां वह स्थानीय लोगों से बातचीत करेंगे और स्थानीय कला और उत्पादों की एक प्रदर्शनी भी देखेंगे. बयान के अनुसार, वह सेना, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) और सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के कर्मियों के साथ भी बातचीत करेंगे.

पीएम मोदी का उत्तराखंड दौरा

प्रधानमंत्री दोपहर करीब 12 बजे अल्मोड़ा जिले के जागेश्वर पहुंचेंगे, जहां वह जागेश्वर धाम में पूजा और दर्शन करेंगे. लगभग 6,200 फुट की ऊंचाई पर स्थित जागेश्वर धाम में लगभग 224 पत्थर के मंदिर हैं. बयान में बताया गया कि इसके बाद प्रधानमंत्री अपराह्न करीब ढाई बजे पिथौरागढ़ पहुंचेंगे, जहां वे ग्रामीण विकास, सड़क, बिजली, सिंचाई, पेयजल, बागवानी, शिक्षा, स्वास्थ्य और आपदा प्रबंधन जैसे क्षेत्रों से जुड़ी लगभग 4,200 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन, लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे.

राज्य को देंगे ये सौगात

प्रधानमंत्री जिन परियोजनाओं का उद्घाटन और लोकार्पण करेंगे, उनमें प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में निर्मित 76 ग्रामीण सड़कें एवं 25 पुल, नौ जिलों में बीडीओ (खंड विकास अधिकारी) कार्यालयों के 15 भवन और केंद्रीय सड़क निधि के तहत निर्मित तीन सड़कों का उन्नयन शामिल हैं. जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया जाएगा, उनमें 21,398 पॉली-हाउस के निर्माण की योजना शामिल है. इससे फूलों और सब्जियों का उत्पादन बढ़ाने और उनकी गुणवत्ता में सुधार करने में मदद मिलेगी.

इसके अलावा उच्च घनत्व वाले सघन सेब के बगीचों की खेती संबंधी एक योजना और एनएच (राष्ट्रीय राजमार्ग) सड़क उन्नयन के लिए पांच परियोजनाओं, देहरादून में राज्य आपातकालीन संचालन केंद्र के उन्नयन, बलियानाला, नैनीताल में भूस्खलन की रोकथाम के लिए उपाय और अन्य बुनियादी ढांचे में सुधार संबंधी परियोजनाओं का शिलान्यास किया जाएगा. बयान में बताया कि प्रधानमंत्री चंपावत में 50 बिस्तर वाले अस्पताल ब्लॉक, नैनीताल स्थित हल्द्वानी स्टेडियम में एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान और रुद्रपुर में वेलोड्रोम स्टेडियम की आधारशिला भी रखेंगे.

खबरें और भी हैं...