जिलाधिकारी ने मण्डलीय चिकित्सालय का किया आकस्मिक निरीक्षण

जिलाधिकारी ने मण्डलीय चिकित्सालय का किया आकस्मिक निरीक्षण

रिपोर्ट- डा.बीरेन्द्र सरोज आजमगढ

आजमगढ़ 18 अप्रैल– जिलाधिकारी श्री विशाल भारद्वाज ने आज मण्डलीय चिकित्सालय, आजमगढ़ का आकस्मिक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने एक्स-रे कक्ष, रिपोर्टिंग कक्ष, फिजिशियन कक्ष, फीवर क्लिनिक, हेल्प डेस्क आदि का निरीक्षण कर आवश्यक जानकारी प्राप्त किया। आकस्मिक निरीक्षण के दौरान संविदा कर्मी अनूप श्रीवास्तव, ऋषिकेश चौहान, राजू प्रजापति, गौरव कुमार, अफजाल अहमद, सतीश चन्द्र पाठक, शैलेन्द्र कुमार, शुभम मौर्य, रंजन मिश्रा, डॉ0 स्मृति मिश्रा तथा अनीता यादव को अनुपस्थित पाये जाने पर जिलाधिकारी ने तत्काल कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि संतोषजनक जवाब न मिलने पर सेवा समाप्त कर दी जाए।
निरीक्षण के दौरान नियमित कर्मचारी श्री नरेश चन्द्र पाल वरिष्ठ सहायक, अविनाश श्रीवास्तव वरिष्ठ सहायक, ज्ञानेन्द्र प्रताप सिंह वरिष्ठ सहायक, दिलीप कुमार चौबे वरिष्ठ सहायक, एसएन सिंह प्रधान सहायक तथा सच्चिदानन्द सिंह प्रशासनिक अधिकारी के अनुपस्थित पाये जाने पर जिलाधिकारी ने कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने प्रातः 10ः30 बजे चिकित्सक का कमरा बन्द पाये जाने पर उससे संबंधित सभी के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने इसके साथ ही सम्पूर्ण मण्डलीय चिकित्सालय का भ्रमण किया एवं मरीजों के वार्डों में जाकर मरीजों से मिलने वाली स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी प्राप्त किया। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि साफ-सफाई व्यवस्था को और बेहतर करायें। उन्होने कहा कि कोविड के दृष्टिगत कोविड प्रोटोकाल का पालन कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि यदि चिकित्सक द्वारा बाहर से किसी भी मरीज को दवाइयां लिखी जाती हैं तो उनके विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 आईएन तिवारी सहित मण्डलीय चिकित्सालय के अन्य चिकित्सा कर्मी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...