छात्रों और शिक्षकों को मिलेगी बेहतर सुरक्षा

नवी मुंबई के सभी सरकारी स्कूलों में लगाए जाएंगे सीसीटीवी, छात्रों और शिक्षकों को मिलेगी बेहतर सुरक्षा

मुंबई – आशीष सिंह

बीते कुछ वक्त के महाराष्ट्र के कई सरकारी स्कूलों में पुनर्विकास और सुधार का काम चल रहा है। जिससे देखकर लगाता है कि राज्य की सरकारी स्कूलों की शक्ल जल्द बदलने वाली है।

छात्रों और टीचर के लिए स्कूलों में हर संभव सुविधा मुहैया कराने की कोशिश की जा रही है। निजी स्कूलों को देखते हुए सरकारी स्कूलों में कई तरह की सुविधाएं भी शुरू की गई हैं। अब इस कड़ी में नवी मुंबई नगर निगम ने अपने यहां के सभी सरकारी स्कूलों में छात्रों और टीचर की सुरक्षा को लेकर बड़ा फैसला लिया है। इस बात की जानकारी नगर निगम की ओर से गई है।

नवी मुंबई नगर निगम ने कहा है कि, नगर निगम की ओर से संचालित स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। नगर निकाय ने छात्रों और शिक्षण कर्मचारियों को बेहतर सुरक्षा प्रदान करने के लिए यह फैसला किया है। आने वाले कुछ दिनों के अंदर सभी स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

इतने सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे

गौरतलब है कि, नवी मुंबई नगर निगम की ओर से कुल 79 प्राथमिक और 53 माध्यमिक स्कूल संचालित होते हैं। इन सभी स्कूलों में कुल 52,000 छात्र पढ़ते हैं। इस बाबत नवी मुंबई नगर निगम के जनसंपर्क अधिकारी महेंद्र कोंडे ने जानकारी देते हुए कहा है कि, कैमरे लगाए जाने को लिए एक समीक्षा की गई थी, जिसके आधार पर शुरुआत में निगम की ओर से सिर्फ 55 स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम शुरू होगा। इन सभी स्कूलों में 687 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे, जोकि हाई-डेफिनिशन बुलेट कैमरे और डोम रहेंगे।

इस योजना के तहत स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे

इनमें 195 हाई-डेफिनिशन बुलेट और 492 डोम कैमरे रहेंगे, जो हर वक्त स्कूलों की निगरानी करेंगे। महेंद्र कोंडे ने यह भी बताया है कि, सभी सरकारी स्कूलों में यह सीसीटीवी कैमरे “शिक्षण विजन” कार्यक्रम के तहत लगाए जाएंगे, जिसका उद्देश्य शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाना और छात्रों में हर तरह के विकास को बढ़ावा देना है। महेंद्र कोंडे के मुताबिक, नवी मुंबई नगर निगम की ओर से संचालित स्कूलों में हर साल 1 हजार छात्र से ज्यादा बच्चे दाखिला लेते हैं। ऐसे में उनकी और टीचरों की सुरक्षा का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।

खबरें और भी हैं...