कृषि सूचना तन्त्र के सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम

कृषि सूचना तन्त्र के सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम

रिपोर्ट- डा.बिरेन्द्र सरोज आजमगढ

आजमगढ़ 20 दिसम्बर– कृषि विभाग आजमगढ़ द्वारा कृषि सूचना तन्त्र के सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम तथा आत्मा योजनान्तर्गत विकास खण्ड स्तरीय कृषि निवेश मेला/रबी गोष्ठी का आयोजन विकास खण्ड परिसर लालगंज में आयोजित किया गया। गोष्ठी का उद्घाटन जिला उपाध्यक्ष श्री योगेन्द्र राय ने किया।
केवीके कोटवा आजमगढ़ के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा0 रुद्र प्रताप सिंह ने सूक्ष्म जीव आधारित त्वरित कम्पोस्टिंग तकनीक, मशरूम उत्पादन, मधुमक्खी पालन आदि में उद्यमिता स्थापित करने की सलाह दी। साथ ही स्वच्छता पखवाड़ा के अन्तर्गत घर एवं गाँव की स्वच्छता एवं स्वास्थ्य ठीक रखने के लिए प्रतिभागियों एवं कर्मचारियों को जागरूक किया। पशुपालन वैज्ञानिक डा0 रसूल मोहम्मद ने प्राकृतिक खेती, पशुओं के देशी नस्ल का संरक्षण एवं संवर्धन, कुक्कुट पालन, मछली पालन तथा पशुओं की बीमारी एवं उनके निदान पर चर्चा की। खाद्य सुरक्षा सलाहकार डा0 रामकेवल यादव ने रबी की फसलों में सिंचाई व उर्वरक प्रबंधन के बारे में जानकारी दी तथा किसान उत्पादक संगठन के महत्व के बारे में चर्चा की।
कृषि विभाग के अधिकारियों ने कृषकों को फसल अवशेष प्रबंधन तथा विभागीय योजनाओं की जानकारी दी।
गोष्ठी में सहायक विकास अधिकारी श्री प्रदीप यादव, सौरभ मौर्य, मनोज यादव, उपदेश मौर्य, अजय सिंह सहित प्रगतिशील किसान धीरेन्द्र सिंह, सर्वेश राय, अशोक राय के साथ विभिन्न समूहों की महिलाओं ने प्रतिभाग किया।

खबरें और भी हैं...