आयुष्मान भवः अभियान का शुभारम्भ मा0 राष्ट्रपति महोदया, श्रीमती द्रौपदी मुर्मू द्वारा किया गया कार्यक्रम का सजीव प्रसारण

आयुष्मान भवः अभियान का शुभारम्भ मा0 राष्ट्रपति महोदया, श्रीमती द्रौपदी मुर्मू द्वारा किया गया कार्यक्रम का सजीव प्रसारण

 

रिपोर्ट- डा.बीरेन्द्र सरोज आजमगढ

 

आजमगढ़ 13 सितम्बर– आयुष्मान भवः अभियान का शुभारम्भ मा0 राष्ट्रपति महोदया, श्रीमती द्रौपदी मुर्मू द्वारा किया गया। कार्यक्रम का सजीव प्रसारण जिलाधिकारी श्री विशाल भारद्वाज की उपस्थिति में मण्डलीय चिकित्सालय आजमगढ़ में किया गया। कार्यक्रम के सजीव प्रसारण के उपरांत जिलाधिकारी द्वारा अंगदान का संकल्प (आयुष्मान भवः के शुभारम्भ पर मैं यह शपथ लेता हूँ कि अपनी स्वेच्छा से मैं अपनी मृत्यु के उपरान्त अपने अंगो को दान करना चाहता हूँ, ताकि मेरे उपरान्त गम्भीर बीमारी से ग्रसित ज़रूरतमन्द व्यक्तियों/मरीजों को जिनको अंग विशेष की आवश्यकता हो, उनको अंग प्रत्यारोपण कर नव जीवन प्रदान हो सके) दिलाया गया।

जिलाधिकारी ने बताया कि उक्त अभियान के 05 प्रमुख घटक सेवा पखवाड़ा, आयुष्मान आपके द्वार 3.0, आयुष्णान मेला, आयुष्मान सभा एवं आयुष्मान ग्राम/आयुष्मान नगरीय वार्ड है। इसका प्रारम्भ 17 सितम्बर, 2023 से किया जायेगा। जिसका आयोजन समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं हेल्थ एण्ड वेलनेस केन् द्रों पर किया जायेगा। इसके अन्तर्गत समस्त उपकेन्द्र स्तरीय हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर एवं शहरी हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर पर प्रत्येक शनिवार को स्वास्थ्य मेला का आयोजन किया जायेगा। जिसमें प्रथम सप्ताह में गैर संचारी रोगों से सम्बन्धित, द्वितीय सप्ताह में टी०वी, कुष्ठ एवं अन्य संचारी रोगों से सम्बन्धित, तृतीय सप्ताह में मातृ एवं बाल स्वास्थ्य तथा पोषण से सम्बन्धित, चतुर्थ सप्ताह में राज्य/जनपद की स्थानीय आवश्यकताओं के अनुरूप (जन जातीय क्षेत्रों में सिकल सेल तथा गैर जन जातीय क्षेत्रों में नेत्र देखभाल) स्वास्थ्य सेवायें प्रदान की जायेंगी।

जिलाधिकारी ने सीएमओ को निर्देश दिया कि स्वास्थ्य देखभाल से जुड़े मिथकों को दूर करने के लिए समग्र दृष्टिकोण के उपागम का अपनाया जाए। उन्होने कहा कि आयुष्मान सभा का उपयोग करते हुए स्वास्थ्य प्रणालियों हेतु सामाजिक उत्तरदायित्व सुनिश्चित करने हेतु एक मंच उपलब्ध करायें। उन्होने कहा कि आयुष्मान ग्राम पंचायत से उन ग्राम पंचायतों को सम्मानित किया जाये, जिन्होंने शत प्रतिशत उपलब्धि निर्धारित सूचकांकों पर प्राप्त की होगी। उन्होने कहा कि प्रत्येक 05 साल की आयु से अधिक पात्र लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड का वितरण सुनिश्चित करायें। इसी के साथ ही प्रत्येक 05 साल की आयु से अधिक पात्र लाभार्थियों की आभा आईडी (आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउण्ट) एवं 30 वर्ष से अधिक आयु के प्रत्येक व्यक्ति की गैर संचारी रोगों (मधुमेह एवं उच्च रक्तचाप) हेतु जाँच सुनिश्चित करायें। उन्होने कहा कि क्षयरोग के सम्भावित मरीजों की जांच (1000 जनसंख्या पर न्यूनतम 30) एवं क्षयरोग के मरीजों का सफलता पूर्वक उपचार (85 प्रतिशत से अधिक) सुनिश्चित करायें।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 आईएन तिवारी ने बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (ग्रामीण एवं शहरी) स्तरीय हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर पर साप्ताहिक मेले का आयोजन प्रत्येक नवीन कार्यक्रम रविवार को किया जायेगा। साप्ताहिक मेले में स्क्रीनिंग, जाँचे एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र स्तरीय साप्ताहिक स्वास्थ्य मेले में मेडिकल कालेज के विशेषज्ञों द्वारा चक्रानुक्रम में सेवायें प्रदान की जायेंगी। विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं और सेवाओं के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक ग्राम/वार्ड स्तर पर वी०एच०एस०एन०सी०/नगरीय स्थानीय निकाय के नेतृत्व में दिनांक 02 अक्टूबर 2023 को आयुष्मान सभा का आयोजन किया जायेगा। उन्होने कहा कि आयुष्मान सभा में आयुष्मान कार्ड का वितरण किया जायेगा एवं पात्र लाभार्थियों की सूची, पी०एम०जे०ए०वाई० के अन्तर्गत जिन लाभार्थियों द्वारा लाभ प्राप्त किया जा चुका है, की सूची एवं क्षेत्र में पी०एम०जे०ए०वाई० के अन्तर्गत सूचीबद्ध चिकित्सालयों की सूची प्रदर्शित की जायेगी। आयुष्मान सभा में गैर संचारी रोगों की जाँच सिकल सेल, नियमित टीकाकरण, क्षयरोग आदि के बारे में जनसमुदाय को जागरूक किया जायेगा।

इस अवसर पर एसीएमओ, मण्डलीय अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ0 एलजे यादव सहित स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...